UPTET | UPTET LATEST NEWS | UPTET NEWS | UPTET BLOG | ONLY4UPTET | UPTET HELP

 


UPTET -Uttar Pradesh Teacher Eligibility Test
 यूपीटीईटी (उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा)

यह उत्तर प्रदेश की राज्य स्तरीय परीक्षा है| उत्तर प्रदेश राज्य के शैक्षिक संस्थानों में प्राथमिक/ उच्च प्राथमिक शिक्षक बनने हेतु न्यूनतम योग्यता उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (UPTET) पास करना अनिवार्य है|

उक्त परीक्षा का आयोजन परीक्षा नियामक प्राधिकारी, प्रयागराज, उत्तर प्रदेश के माध्यम से कराया जाता है| प्रतिवर्ष यह परीक्षा एक बार आयोजित की जाती है|

अनुक्रम:
1. आवेदन प्रक्रिया
2. पात्रता मानदंड
3. परीक्षा शुल्क
4. परीक्षा का आयोजन
5. परीक्षा की अवधि व प्रारूप
6. परीक्षा पेपर की संरचना व विषयवस्तु
7. UPTET परीक्षा पाठ्यक्रम
8. अहर्क अंक (Passing Marks)
9. प्रमाणपत्र वैधता अवधि

1. आवेदन  प्रक्रिया: UPTET परीक्षा का आवेदन ऑनलाइन लिया जाता है| जिसका वेबसाइट लिंक आयोजन संस्था मान्यता प्राप्त समाचार पत्रों में विज्ञप्ति के माध्यम से प्रसारित करती है|

आवेदन की अंतिम तिथि तक निर्धारित प्रक्रिया के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन किया जाता है तथा किसी भी प्रकार के शैक्षिणिक अभिलेखों को प्रमाण के तौर पर डाक के माध्यम से प्रेषित नहीं करना होता है|

निर्धारित मानदंडों को धारण करने वाले प्रतिभागियों को एडमिट कार्ड (Admit Card) ऑनलाइन जारी किए जाते है| जिनको प्रतिभागियों को डाउनलोड करना होता है| एडमिट कार्ड वेबसाइट पर आने की सूचना भी आयोजन संस्था मान्यता प्राप्त समाचार पत्रों के माध्यम से प्रेषित कराई जाती है तथा प्रतिभागियों के ईमेल पर भी मेल आता है| 

2. पात्रता मानदंड: यह परीक्षा दो अलग अलग स्तर की होती है| परीक्षार्थी जिस स्तर के लिए आवेदन करता है उसकी पात्रता मानक पूर्ण करना आवश्यक होता है| आवेदक एक या दोनों स्तरों के लिए आवेदन कर सकता है|

i) प्राथमिक स्तर पात्रता (कक्षा 1 से 5 तक) –

·    यूजीसी से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक परीक्षा उत्तीर्ण तथा राष्ट्रीय अध्यापक परीक्षा परिषद (N.C.T.E.) से मान्यता के उपरांत उत्तर प्रदेश शासन से संबद्धता प्राप्त संस्था से 2 वर्षीय डीएलएड (बीटीसी) के अंतिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण|

या

·      यूजीसी से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक परीक्षा उत्तीर्ण तथा दूरस्थ शिक्षा विधि से अप्रशिक्षित व स्नातक शिक्षामित्रों का दो वर्षीय बीटीसी के अंतिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण|

या

·    यूजीसी से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक परीक्षा उत्तीर्ण तथा राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (N.C.T.E.) से मान्यता प्राप्त संस्था से शिक्षा शास्त्र में 2 वर्षीय डिप्लोमा (डीएड)/ भारतीय पुनर्वास परिषद (R.C.I.) से मान्यता प्राप्त संस्था से शिक्षा शास्त्र (विशेष शिक्षा) में 2 वर्षीय डिप्लोमा (डीएड) के अंतिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण|

या

·    यूजीसी से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से न्यूनतम 50% अंकों के साथ स्नातक अथवा परास्नातक और एनसीटीई से मान्यता प्राप्त संस्था से शिक्षा शास्त्र में स्नातक B.Ed. के अंतिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण|

या

·       यूजीसी से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से न्यूनतम 45% अंकों के साथ स्नातक अथवा परास्नातक तथा शिक्षा शास्त्र में स्नातक (B.Ed.) जो इस संबंध में समय-समय पर जारी किए गए राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (मान्यतामानदंड तथा क्रियाविधि) विनियमों के अनुसार प्राप्त किया गया हो।

या

·     यूजीसी से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक तथा उत्तर प्रदेश में संचालित राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद से मान्यता प्राप्त विशिष्ट बीटीसी प्रशिक्षण के अंतिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण|

या

·       यूजीसी से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक तथा उत्तर प्रदेश में संचालित 2 वर्षीय बीटीसी उर्दू विशेष प्रशिक्षण के अंतिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।

या

·       यूजीसी से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक तथा अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के डिप्लोमा इन टीचिंग के अंतिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।

या

·       यूजीसी से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक तथा अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के डिप्लोमा इन टीचिंग के अंतिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।

या

·       न्यूनतम 50% अंकों के साथ इंटरमीडिएट अथवा इसके समकक्ष तथा 4 वर्षीय प्रारंभिक शिक्षा शास्त्र में स्नातक (B.El.Ed) के अंतिम वर्ष शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।

 

ii) उच्च प्राथमिक स्तर पात्रता (कक्षा 6 से 8 तक) –

·    यूजीसी से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक परीक्षा उत्तीर्ण तथा राष्ट्रीय अध्यापक परीक्षा परिषद (N.C.T.E.) से मान्यता के उपरांत उत्तर प्रदेश शासन से संबद्धता प्राप्त संस्था से 2 वर्षीय डीएलएड (बीटीसी) के अंतिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण|

या

·    यूजीसी से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से न्यूनतम 50% अंकों के साथ स्नातक अथवा परास्नातक और एनसीटीई से मान्यता प्राप्त संस्था से शिक्षा शास्त्र में स्नातक B.Ed. के अंतिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण|

या

·     यूजीसी से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से न्यूनतम 45% अंकों के साथ स्नातक अथवा परास्नातक तथा शिक्षा शास्त्र में स्नातक (B.Ed.) जो इस संबंध में समय-समय पर जारी किए गए राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (मान्यतामानदंड तथा क्रियाविधि) विनियमों के अनुसार प्राप्त किया गया हो।

या

·     यूजीसी से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से न्यूनतम 50% अंकों के साथ में स्नातक अथवा परास्नातक और एनसीटीई से मान्यता प्राप्त संस्था भारतीय पुनर्वास परिषद (R.C.I.) द्वारा मान्यता प्राप्त संस्था से शिक्षा शास्त्र (विशेष शिक्षा) के बीएड विशेष शिक्षा के अंतिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।

या

·     न्यूनतम 50 अंकों के साथ इंटरमीडिएट अथवा इसके समकक्ष एवं एनसीटीई/ यूजीसी से मान्यता प्राप्त संस्था से 4 वर्षीय B.A.Ed./ B.A. B.Ed. के अंतिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।

या

·     न्यूनतम 50 अंकों के साथ इंटरमीडिएट अथवा इसके समकक्ष एवं एनसीटीई/ यूजीसी से मान्यता प्राप्त संस्था से 4 वर्षीय B.Sc.Ed./ B.Sc.B.Ed. के अंतिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।

या

·     न्यूनतम 50% अंकों के साथ इंटरमीडिएट अथवा इसके समकक्ष एवं 4 वर्षीय प्रारंभिक शिक्षा शास्त्र में स्नातक B.El.Ed. के अंतिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।

या

·      यूजीसी से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से न्यूनतम 50% अंकों के साथ स्नातक और भारतीय पुनर्वास परिषद द्वारा मान्यता प्राप्त 1 वर्षीय बीएड (विशेष शिक्षा) में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।

टिप्पणी: अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, विशेष आरक्षण श्रेणी के अभ्यर्थियों को पात्रता हेतु न्यूनतम शैक्षिक अहर्ता में 5% अंकों के सूट की अनुमति होती है। यह पात्रता मानदंड UPTET 2019 से लिए गए है|

3. परीक्षा शुल्क: सामान्य/ अन्य पिछड़ा वर्ग – 600  प्रति स्तर परीक्षा, अनुसूचित जाति/ अनुसूचित जनजाति –  400  प्रति स्तर परीक्षा, दिव्यांग – 100  प्रति स्तर परीक्षा|

4. परीक्षा का आयोजन: UPTET परीक्षा के परीक्षा केंद्र उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिलों में बनाए जाते है| परीक्षा का आयोजन पूर्व निर्धारित तिथि को दो पालियों में होता है| पहली पाली में प्राथमिक स्तर व दूसरी पाली में उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा का आयोजन होता है| 

5. परीक्षा की अवधि व प्रारूप:

·       150 मिनट की परीक्षा अवधि|

·       नकारात्मक मूल्यांकन नहीं|

·       समस्त प्रश्न बहुविकल्पीय|

6. परीक्षा पेपर की संरचना व विषयवस्तु:

i) प्राथमिक स्तर (कक्षा 1 से 5 तक)


ii) उच्च प्राथमिक स्तर (कक्षा 6 से 8 तक)


7. UPTET परीक्षा पाठ्यक्रम: UPTET परीक्षा पाठ्यक्रम डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए लिंक क्लिक करें|

                             i) 1 से 5 कक्षा स्तर के पाठ्यक्रम के लिए क्लिक करें 

                            ii) 6 से 8 कक्षा स्तर के पाठ्यक्रम के लिए क्लिक करें 

8. अहर्क अंक (Passing Marks):
          अ) सामान्य वर्ग – 90 अंक
          ब) अनुसूचित जाति /अनुसूचित जनजाति/ अन्य पिछड़ा वर्ग/ स्वतंत्रता संग्राम सेनानी आश्रित/ भूतपूर्व सैनिक स्वयं/ विकलांग श्रेणी – 82 अंक

9. प्रमाणपत्र वैधता अवधि – निर्गत तिथि से 5 वर्ष के लिए मान्य|

आपको आगामी परीक्षा के लिए शुभकामनाएँ!

डिस्क्लेमर: उपरोक्त सूचनाएं पूर्ववर्ती परीक्षाओं से ली गई है| परीक्षा हेतु नए आवेदन आने पर अधिकारिक स्रोत से सभी सूचनाओ की पुष्टि कर लें तथा कोई भिन्नता होने की दशा में अधिकारिक वेबसाइट पर दी गई नवीनतम सूचना को ही माने तथा उसका प्रयोग करें|

uptet, uptet help, uptet.help, uptet news, up tet news, uptet blog, uptet latest news,  uptet primary ka master